रामा - श्यामा तुलसी - लगाने के नियम


 श्यामा तुलसी - श्यामा तुलसी के पत्ते गहरे हरे रंग या बैंगनी रंग के होते हैं. श्यामा तुलसी का श्रीकृष्ण को बेहद पसंद थी. कहते हैं इसके पत्ते श्रीकृष्ण के रंग के समान होते हैं. कान्हा का एक नाम श्याम भी है इसलिए इसे श्यामा के नाम से जाना जाता है. रामा के मुकाबले इससे पत्तों में मीठापन नहीं होता.


रामा तुलसी - रामा तुलसी के पत्ते हरे रंग के होते हैं. मान्यता है कि रामा तुलसी श्री राम को अति प्रिय थी इसलिए इसे रामा तुलसी के नाम से जाना जाता है. रामा तुलसी के पत्ते मीठे होते हैं. इसे घर में लगाने से सुख-समृद्धि में वृद्धि होती है. पूजा पाठ में रामा तुलसी का उपयोग किया जाता है.



घर में कौन सी तुलसी लगाएं - शास्त्रों के अनुसार रामा और श्यामा दोनों तुलसी का अपना महत्व है इसलिए दोनों को घर में लगाया जा सकता है. ज्यादातर घरों में रामा तुलसी का प्रयोग किया जाता है. इससे तरक्की के रास्ते खुलते हैं


.तुलसी लगाने का शुभ दिन शास्त्रों के अनुसार तुलसी लगाने के लिए गुरुवार, शुक्रवार, शनिवार का दिन शुभ माना गया है. गुरुवार तुलसी लगाने से भगवान विष्णु की विशेष कृपा बरसती है. वहीं शनिवार को तुलसी का पौधा लगाने से धन से संबंधित परेशानियां दूर होती है.


तुलसी कब न लगाएं- एकदाशी, रविवार, सोमवार, बुधवार और ग्रहण के दिन तुलसी का पौधा नहीं लगाना चाहिए. ऐसा करना अशुभ माना जाता है. साथ ही इन दिनों में तुलसी पत्र तोड़ना भी नहीं चाहिए.

(ABP न्यूज से साभार)

प्रस्तुति

शालिनी कौशिक

     एडवोकेट 

टिप्पणियाँ

Anita ने कहा…
भारतीय संस्कृति में तुलसी के पौधे का अति महत्व है, आपने बहुत सुंदरता से इसके बारे में जानकारी दी है
Shalini kaushik ने कहा…
आभार अनीता जी 🙏🙏

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मेरी माँ - मेरा सर्वस्व

तेजाबी गुलाब है मीडियाई वेलेंटाइन

खंडपीठ /चेंबर /आर्थिक मदद /आरक्षण कुछ तो दें योगी जी - शालिनी कौशिक एडवोकेट