संदेश

November, 2019 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

काँग्रेस की महान देन देश के लिए - जे एन यू.

चित्र
जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी, देश की विख्यात शिक्षण संस्थानों में से एक, पिछले कुछ समय से, विशेष तौर पर उस समय से जब से नेहरू विरोधी सत्ता उभरकर सामने आई है एक ऐसे संस्थान के रूप में दिखाया जा रहा है जैसे यह संस्थान राष्ट्र विरोधी ताकतों का "अड्डा" हो, जबकि इस संस्थान का स्थापना से लेकर आज तक देश के विभिन्न मुद्दों पर क्या नजरिया रहा है और देश के संकट की घड़ी में यह संस्थान किस तरह देश के साथ खड़ा रहा है इस पर "अमर उजाला दैनिक" ने एक विस्तृत अवलोकन 22 नवंबर 2019 को प्रस्तुत किया और इस सभी की जानकारी देश को भटकाव की तरफ ले जाने वाले, देश के लिए कुर्बानी का जज्बा और समर्पण की भावना रखने वाले संस्थान की प्रसिद्धि को देश विरोधी गुट से जोड़ने की कोशिश करने वालों की कोशिशों को नाकाम करने के लिए हम सभी आम भारतीयों द्वारा जानना आवश्यक है -  14 नवंबर 1969 में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय की स्थापना हुई थी। भारतीय संसद द्वारा 22 दिसंबर 1966 में इसके निर्माण के लिए प्रस्ताव पारित किया गया था। जेएनयू को अधिनियम 1966 (1966 का 53) के तहत बनाया गया।
जेएनयू का उद्देश्य रहा है- अध्…

भारतीय ध्रुव तारा इंदिरा गांधी

चित्र
जब ये शीर्षक मेरे मन में आया तो मन का एक कोना जो सम्पूर्ण विश्व में पुरुष सत्ता के अस्तित्व को महसूस करता है कह उठा कि यह उक्ति  तो किसी पुरुष विभूति को ही प्राप्त हो सकती है  किन्तु तभी आँखों के समक्ष प्रस्तुत हुआ वह व्यक्तित्व जिसने समस्त  विश्व में पुरुष वर्चस्व को अपनी दूरदर्शिता व् सूक्ष्म सूझ बूझ से चुनौती दे सिर झुकाने को विवश किया है .वंश बेल को बढ़ाने ,कुल का नाम रोशन करने आदि न जाने कितने ही अरमानों को पूरा करने के लिए पुत्र की ही कामना की जाती है किन्तु इंदिरा जी ऐसी पुत्री साबित हुई जिनसे न केवल एक परिवार बल्कि सम्पूर्ण राष्ट्र गौरवान्वित अनुभव करता है  और  इसी कारण मेरा मन उन्हें ध्रुवतारा की उपाधि से नवाज़ने का हो गया और मैंने इस पोस्ट का ये शीर्षक बना दिया क्योंकि जैसे संसार के आकाश पर ध्रुवतारा सदा चमकता रहेगा वैसे ही इंदिरा प्रियदर्शिनी  ऐसा  ध्रुवतारा थी जिनकी यशोगाथा से हमारा भारतीय आकाश सदैव दैदीप्यमान  रहेगा। १९ नवम्बर १९१७ को इलाहाबाद के आनंद भवन में जन्म लेने वाली इंदिरा जी के लिए श्रीमती सरोजनी नायडू जी ने एक तार भेजकर कहा था -''वह भारत की नई आत्मा है .&…

और कितनी शहादत चाहिए नेहरू गाँधी परिवार से

चित्र
राहुल गांधी अपने व्यक्तित्व व परिवारिक लोकप्रियता के कारण जनता के दिलों में अपना एक अलग मुकाम रखते हैं और जनता के दिलों में राहुल गांधी के व उनके परिवार के प्रति यह प्यार विपक्षी भाजपा को इस कदर खटकता है कि वे कुछ भी करें तो भी और कुछ न करें तो भी उसे मुद्दा बनाकर देश की भोली-भाली जनता के मन में उनके लिए जहर घोलने की कोशिशें की जाती हैं और भारतीय जनता पार्टी में तो कुछ नेताओं को, कार्यकर्ताओं को यह ही जिम्मेदारी दी गई है कि राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और सोनिया गांधी पर नज़र रखो और समय समय पर इन्हें लेकर जो कुछ भी कह सकते हो, कहो, क्योंकि ये पार्टी जानती है कि अगर निरंतर किसी जगह पर चोट की जाए तो वह चोट निशान अवश्य छोड़ती है और आज इसी निरंतर प्रहार का असर ही है कि भारतीय जनता पार्टी सत्ता में कायम है और देश के लिए अपनी कुर्बानी देने वाला यह परिवार अंध भक्तों के द्वारा कभी चोर तो कभी भ्रष्टाचारी कहा जा रहा है किन्तु ऐसा तभी है जब इस पार्टी द्वारा अपने अंध भक्तों की आंखों पर पूरी तरह से झूठ का पर्दा डाल दिया गया है और सच देखने के सभी रास्ते बंद कर दिए गए हैं साथ ही एक ऐसी हिप्नोटिज्म क…