पोस्ट

अप्रैल, 2020 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

गांधी परिवार चलाता भाजपा सरकार

इमेज
पालघर मॉब लिंचिंग में गिरफ्तार 101 आरोपियों में से कोई भी मुस्लिम नहीं: महाराष्ट्र गृहमंत्री http:// thewirehindi.com/118548/palghar -mob-lynching-none-of-the-accused-arrested-is-muslim-anil-deshmukh/ … via @thewirehindi मुस्लिम समाज भाजपा के हमेशा निशाने पर रहा है और जब जब भाजपा सत्ता में आई है तब तब मुस्लिम समाज का सहमा सहमा रहना ही दिखाई देता है. भारत हिन्दू बहुल देश है किन्तु यहां की संस्कृति हमेशा से वसुधैव कुटुम्बकम की रही है और सत्ता में 70 सालों से रही कॉंग्रेस ने इसी संस्कृति को संजोया है. कॉंग्रेस की बागडोर सम्भालने वाले नेहरू गांधी परिवार के लिए सर्व साधारण के मन में यह विश्वास कायम रहा है कि हमारे हित इस परिवार के रहते हमेशा सुरक्षित हैं और यही बात भाजपा को हमेशा चुभती रही है. भारत हिन्दू धर्म प्रधान देश है और इसी तथ्य को पकड़कर भाजपा ने भारत में अपनी जड़ें ज़माने के लिए हिन्दुओं को लुभाना शुरू किया और अंग्रेजों के डिवाइड एंड रूल सिद्धांत को अपनाया और तोड़ना आरंभ किया इस देश की संस्कृति को, किन्तु जानती थी भाजपा की इस देश को तोड़ना कॉं

सोनिया - राहुल ही भाजपाईयों के निशाने पर

इमेज
जगमगाते अपने तारे गगन पर गैर मुल्कों के , तब घमंड से भारतीय सीने फुलाते हैं . टिमटिमायें दीप यहाँ आकर विदेशों से , धिक्कार जैसे शब्द मुहं से निकल आते हैं . .....  नौकरी करें हैं जाकर हिन्दुस्तानी और कहीं , तब उसे भारतीयों की काबिलियत बताते हैं . करे सेवा बाहर से आकर गर कोई यहाँ , हमारी संस्कृति की विशेषता बताते हैं . राजनीति में विराजें ऊँचे पदों पे अगर , हिन्दवासियों के यशोगान गाये जाते हैं . लोकप्रिय विदेशी को आगे बढ़ देख यहाँ , खून-खराबे और बबाल किये जाते हैं. ..........  क़त्ल होता अपनों का गैर मुल्कों में अगर , आन्दोलन करके विरोध किये जाते हैं . अतिथि देवो भवः गाने वाले भारतीय , इनके प्रति अशोभनीय आचरण दिखाते हैं . .......  विश्व व्यापी रूप अपनी संस्था को देने वाले , संघी मानसिकता से उबार नहीं पाते हैं . भारतीय कहकर गर्दन उठाने वाले , वसुधैव कुटुंबकम कहाँ अपनाते हैं भारत का छोरा जब गाड़े झंडे इटली में , भारतीयों की तब बांछें खिल जाती हैं . इटली की बेटी अगर भारत में बहु बने , जिंदादिल हिंद की जान निकल जाती है .