सोमवार, 27 फ़रवरी 2012

वोट डाल ले.

उत्तर प्रदेश में आज छठे चरण का मतदान कार्य चल रहा है और कहने  को जो बुद्धिजीवी हैं मैंने जहाँ तक देखा है घरों में समाचार पत्र पढने में और टेलीविजन  देखने में मशगूल हैं और जिसे ये बुद्धिजीवी अनपढ़ गंवार कहते   हैं वे  कभी अकेले और कभी मुहं ढक कर मतदान केन्द्रों की और जा रहे हैं क्या यही  है हमारा अपने लोकतंत्र के प्रति कर्तव्य निर्वहन?अधिकार पाने को तो हम संघर्षों से सरकार की नाक में दम कर देते हैं और कर्त्तव्य के नाम पर ''इसे राजनीति की दलदल" कह पीछे हट लेते हैं .हम यदि अपने को जागरूक नागरिक कहते हैं तो हमें अपने कर्तव्य के प्रति भी जागरूक होना होगा और एक योग्य,ईमानदार सरकार का निर्माण अपने इन हाथों से करना होगा.साथ ही  आप सुनिए ''शिखा जी ''का ये स्वयं लिखा व् स्वरबद्ध किया हुआ ये गाना जो आपको शायद सोते से जगा सकने में मेरे इस आलेख की अपेक्षा ज्यादा सक्षम होगा और यदि ये गाना आपको जरा भी इस कार्य में प्रेरित  करे तो कृपया यहाँ बताना और वोट डालना मत भूलियेगा  -

शालिनी  कौशिक 
                

11 टिप्‍पणियां:

kshama ने कहा…

Matdaan hamara haq aur kartavya donohee hai! Aap sahee kah rahee hain! Afsos! Hamare yahan jab matdaan tha,mai ICU me thee!

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

सबको वोट डालना चाहिये...

शिखा कौशिक ने कहा…

thanks shalini ji to take my song on your blog .

रेखा ने कहा…

बहुत सही कहा है आपने .....वोट तो हमसब को डालनी ही चाहिए ,इस सार्थक प्रस्तुति के लिए आभार

Chirag Joshi ने कहा…

its our right and we should make otherwise fir se kosenge sarkar ko jabki ise banane vale bhi hum hi to hain

Rakesh Kumar ने कहा…

वाह! शालिनी जी शिखा जी का गायन तो
गजब का प्रेरक है.पर उनको सुन ही पाए बस.
काश!गाते हुए देख भी पाते.
अब तो वोट जरूर ही डालनी चाहिये.
हमारे यहाँ कल था वोटिंग का दिन.
टायफाइड से ग्रस्त था,पर शायद शिखा जी
की आवाज इतनी जोरदार थी कि वोट
डाल ही आया.

बहुत समय पूर्व आप मेरे ब्लॉग पर आयीं थीं.
समय मिले तो फिर से आईएगा.

Rakesh Kumar ने कहा…

मेरे ब्लॉग पर आपके आने का बहुत बहुत धन्यवाद.
आपके बहुमूल्य आकलन का इन्तजार करूँगा मैं.

Sawai Singh Rajpurohit ने कहा…

बहुत ही अच्छा, इस सार्थक प्रस्तुति ..

mahendra verma ने कहा…

इसके पहले ऐसा गीत कभी नहीं सुना।
बधाई !

dil se... ने कहा…

achhe vichar hai .... achha jajba hai .... keep it up .... yuhi desh nirman mai apni lekhni chalate rahe .... have a gud day

dil se... ने कहा…

achhe vichar hai .... achha likha .... .... apni lekhni ko desh hit mai yu hi chalate rahe ... keep it up .... kabhi toh subha hogi ....

बेटी की...... मां ?

बेटी का जन्म पर चाहे आज से सदियों पुरानी बात हो या अभी हाल-फ़िलहाल की ,कोई ही चेहरा होता होगा जो ख़ुशी में सराबोर नज़र आता होगा ,लगभग...