शुक्रवार, 6 फ़रवरी 2015

............................ज़रूरी तो नहीं .

Woman Smile Royalty Free Stock Images - 2313859Smile Icon Set Stock Image - 13111681


मुस्कुराना हर किसी के लिए , ज़रूरी तो नहीं ,
खिलखिलाना हर किसी के लिए , ज़रूरी तो नहीं ,
ज़िंदगी में जब भरे हों गम ही गम
भूलकर हम जियें ऐसे ,ज़रूरी तो नहीं .
............................................................
ख्वाब देखा किये थे बचपन से ,
आज टूटकर हैं वे बिखरे हुए ,
उनकी कब्रों पे खड़े होकर हम
तालियां मिल बजाएं ,ज़रूरी तो नहीं .
...........................................................
कामयाबी की रखी हसरतें हमने ,
मेहनतें उस कदर नहीं कर सके ,
अपने हालात खुद ही बिगाड़े हैं
आंसूं भी अब बहाएं ,ज़रूरी तो नहीं .
.........................................................
दिल था अपना मासूम बच्चे सा ,
न समझा हमीं खता कर रहे ,
आज मौजें करी कल का सोचा नहीं
अब भी परवाह करें ,ज़रूरी तो नहीं .
............................................................
रहते वक़्त कोई जब सोता रहे ,
हाथ आये मौके को खोता रहे ,
फिर तो रोना पड़े उसे उम्र-भर
लापरवाह सब '' शालिनी'' से , ज़रूरी तो नहीं .


शालिनी कौशिक
    [कौशल ]

3 टिप्‍पणियां:

AWADHESH KUMAR DUBEY ने कहा…

सार्थक प्रस्तुतिकरण!
गोस्वामी तुलसीदास

Dilbag Virk ने कहा…

आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 8-2-2015 को चर्चा मंच पर चर्चा - 1883 में दिया जाएगा
धन्यवाद

Onkar ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति

काश ऐसी हो जाए भारतीय नारी

चली है लाठी डंडे लेकर भारतीय नारी , तोड़ेगी सारी बोतलें अब भारतीय नारी . ................................................ बहुत दिनों ...