शुक्रवार, 6 फ़रवरी 2015

............................ज़रूरी तो नहीं .

Woman Smile Royalty Free Stock Images - 2313859Smile Icon Set Stock Image - 13111681


मुस्कुराना हर किसी के लिए , ज़रूरी तो नहीं ,
खिलखिलाना हर किसी के लिए , ज़रूरी तो नहीं ,
ज़िंदगी में जब भरे हों गम ही गम
भूलकर हम जियें ऐसे ,ज़रूरी तो नहीं .
............................................................
ख्वाब देखा किये थे बचपन से ,
आज टूटकर हैं वे बिखरे हुए ,
उनकी कब्रों पे खड़े होकर हम
तालियां मिल बजाएं ,ज़रूरी तो नहीं .
...........................................................
कामयाबी की रखी हसरतें हमने ,
मेहनतें उस कदर नहीं कर सके ,
अपने हालात खुद ही बिगाड़े हैं
आंसूं भी अब बहाएं ,ज़रूरी तो नहीं .
.........................................................
दिल था अपना मासूम बच्चे सा ,
न समझा हमीं खता कर रहे ,
आज मौजें करी कल का सोचा नहीं
अब भी परवाह करें ,ज़रूरी तो नहीं .
............................................................
रहते वक़्त कोई जब सोता रहे ,
हाथ आये मौके को खोता रहे ,
फिर तो रोना पड़े उसे उम्र-भर
लापरवाह सब '' शालिनी'' से , ज़रूरी तो नहीं .


शालिनी कौशिक
    [कौशल ]

3 टिप्‍पणियां:

AWADHESH KUMAR DUBEY ने कहा…

सार्थक प्रस्तुतिकरण!
गोस्वामी तुलसीदास

Dilbag Virk ने कहा…

आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 8-2-2015 को चर्चा मंच पर चर्चा - 1883 में दिया जाएगा
धन्यवाद

Onkar ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति

हस्ती ....... जिसके कदम पर ज़माना पड़ा.

कुर्सियां,मेज और मोटर साइकिल      नजर आती हैं हर तरफ और चलती फिरती जिंदगी      मात्र भागती हुई      जमानत के लिए      निषेधाज्ञा के...