सोमवार, 5 मार्च 2012

आओ खेलें ज्ञान की होली,


 Holi WallpaperHoli Wallpaper
[google se sabhar]


 आज मुझे ब्लॉग परिवार में बहुत सी होली की शुभकामनायें मिली किन्तु दुःख यह रहा कि  इंटरनेट के सही रूप से काम  न कर पाने के कारण  मैं अभी तक किसी को भी होली की शुभकामनायें प्रेषित नहीं कर पाई हूँ फिर मैंने सोचा की क्यों न मैं एक पोस्ट के माध्यम से ये पुनीत कार्य कर ही डालूँ.
  •     आज जब मैं बाज़ार से घर लौट रही थी तो देखा कि स्कूलों से बच्चे रंगे हुए लौट रहे हैं और वे खुश भी थे जबकि मैं उनकी यूनीफ़ॉर्म के रंग जाने के कारण ये सोच रही थी कि जब ये घर पहुंचेंगे तो इनकी मम्मी ज़रूर इन पर गुस्सा होंगी .बड़े होने पर हमारे मन में ऐसे ही भाव आ जाते हैं जबकि किसी भी त्यौहार का पूरा आनंद   बच्चे ही लेते हैं क्योंकि वे बिलकुल निश्छल भाव से भरे होते हैं और हमारे मन चिंताओं से ग्रसित हो जाते हैं किन्तु ये बड़ों का ही काम है कि वे बच्चों में ऐसी भावनाएं भरें जिससे बच्चे अच्छे ढंग से होली मनाएं.हमें चाहिए कि हम उनसे कहें कि होली आत्मीयता का त्यौहार है इसमें हम सभी को मिलजुल कर आपस में ही त्यौहार मानना चाहिए और कोशिश करनी चाहिए की हमारे काम से किसी के दिल को चोट न पहुंचे.ये कह कर कि "बुरा न मानो  होली है "कहने से गलत काम को सही नहीं किया जा सकता इसलिए कोशिश करो कि हम सबको ख़ुशी पहुंचाएं .किसी उदास चेहरे पर मुस्कुराहट  लाना हमारा त्यौहार मनाने का प्रमुख लक्ष्य होना चाहिए.फिर इस त्यौहार पर हम आज कुछ गलत वस्तुओं का प्रयोग कर दूसरों को परेशान करने की कोशिश करते हैं यह  भी एक गलत बात है त्यौहार पर हमें केवल प्राकृतिक रंगों से खेलना चाहिए.हम निम्न प्रकार रंग तैयार भी कर सकते हैं-
  • पिसे हुए लाल चन्दन के पाउडर को लाल रंग के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं.
  • हल्दी को पीले रंग के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं.
  • मेहँदी पाउडर को हरे रंग के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं.
  • गुडहल के फूलों को धूप में सुखाकर लाल रंग तैयार कर सकते हैं.
साथ ही रंग छुड़ाने के लिए भी आप इन तरकीबों का इस्तेमाल कर सकते हैं-
  • जहाँ रंग लगा हो उस स्थान पर खीरे की फांक रगड़ कर रंग छुड़ा सकते हैं.
  • नीम्बूँ के रस में चीनी मिलकर व् कच्चे पपीते के गूदे को रगड़ कर भी रंग छुड़ाया जा सकता है.
इस पर्व से जुडी सबसे प्रमुख कथा भक्त प्रह्लाद की है जिसमे उन्हें मारना  के लिए होलिका उन्हें लेकर अग्नि में बैठी  और भगवन भोलेनाथ द्वारा दिया गया दुशाला ओढ़ लिया किन्तु भक्त प्रह्लाद इश्वर  के सच्चे भक्त थे दुशाला उन पर आ गया और होलिका जल कर भस्म हो गयी इसी याद में हर वर्ष होलिका दहन किया जाता है और दुश्प्रवर्तियों   के शमन की कामना की जाती है.
आज आवश्यकता इसी बात की है की हम इस त्यौहार के मानाने  के कारण  पर ध्यान दें न की इसके ढंग पर .और आपस में भाईचारे को बढ़ाने  का काम करें न की नई दुश्मनिया बढ़ने का.जो ढंग इस वक़्त इस त्यौहार को मनाने का चल रहा है वह सही नहीं है.हम देखते हैं की रंग लगने के बाद सभी एक जैसे हो जाते हैं कोई बड़ा छोटा नहीं रह जाता .कोई अमीर  गरीब नहीं रह जाता तो हमारी भी कोशिश सभ्यता के दायरे में रहते हुए आपसी  प्रेम को बढाने की होनी चाहिए.मैं सोचती हूँ की मेरा यह लेख इस दिशा में आपको ज़रूर प्रेरित करेगा.मैं आपको अंत में साधक गुरुशरण के शब्दों में होली मनाने के उत्तम ढंग बताते हुए होली की शुभकामनायें प्रेषित करती हूँ.
"आओ खेलें ज्ञान की होली,
राग द्वेष भुलाएँ,
समता स्नेह  बढ़ा के दिल में
प्रेम का रंग लगायें."
     
            शालिनी कौशिक

10 टिप्‍पणियां:

शिखा कौशिक ने कहा…

VERY RELEVANT POST ON THE AUSPICIOUS FESTIVAL ''HOLI ''.I WISH YOU VERY HAPPY HOLI .

kshama ने कहा…

Bahut badhiya post!
Holi kee anek shubh kamnayen!

महेन्द्र मिश्र ने कहा…

बढ़िया प्रस्तुति...
होली पर्व की हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं...

Drobcek ने कहा…

करने के लिए अपने स्वयं के biznys खोलना चाहते हैं?

जो एक निश्चित मासिक वेतन प्राप्त करना चाहते हैं और कोई पूंजी के साथ, सभी के लिए एक नया अवसर!
9 / अप्रैल / रात Mvic Anthezw रिकॉर्डिंग समय 2012 का मौका कम करने की संभावना 100% मुक्त है और 100% गारंटी ...
http://myurl.cz/ternity: पंजीकरण के लिए लिंक


रजिस्टर में अपने सभी दोस्तों को आमंत्रित करें!
शुरुआत के लिए, आप अपने ईमेल पते की पुष्टि इससे पहले कि आप अपने खाते का उपयोग कर सकते हैं चाहिए. कृपया, अगर आप 24 घंटे के भीतर आपके इनबॉक्स में एक सत्यापन ईमेल से पुष्टि प्राप्त नहीं है, अपने स्पैम फ़ोल्डर की जाँच करें. यहाँ क्लिक करें: http://myurl.cz/ternity और पुनः पंजीकरण

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

बच्चों की मुस्कराहट ही होली के असली रंग हैं।

सदा ने कहा…

बहुत ही अच्‍छी प्रस्‍तुति ...

कल 07/03/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर लिंक की जा रही हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .

धन्यवाद!


'' होली की शुभकामनायें ''

Anita ने कहा…

होली पर सार्थक पोस्ट ! शुभकामनायें!

Reena Maurya ने कहा…

बहूत बढीया पोस्ट
होली कि शुभ कामनाये

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) ने कहा…

बहुत ही बढ़िया
आपको होली की सपरिवार हार्दिक शुभकामनाएँ।

सादर

sushila ने कहा…

"ज्ञान की होली" आकर्षित कर गया।
होली की कथा, विधि और प्रेरक संदेश पढकर अच्छा लगा।

संभल जा रे नारी ....

''हैलो शालिनी '' बोल रही है क्या ,सुन किसी लड़की की आवाज़ मैंने बेधड़क कहा कि हाँ मैं ही बोल रही हूँ ,पर आप ,जैसे ही उसने अपन...