पहले अपना घर तो सुधारे भाजपा .

आज के समय में चारों तरफ उत्तर प्रदेश में महिलाओं पर हो रहे हमलों को लेकर एक खौफनाक दृश्य उपस्थित किया जा रहा है और ऐसे हालत उपस्थित किये जा रहे हैं जैसे उत्तर प्रदेश एकमात्र ऐसा राज्य हो जहाँ ऐसा हो रहा है जबकि हालत इस समय पूरे देश में लगभग यही हैं बस बदनाम केवल उत्तर प्रदेश को किया जा रहा है क्योंकि उत्तर प्रदेश एक ऐसा राज्य है जिसकी लोकसभा में सर्वाधिक सीट हैं और यहाँ पर शासन करने का भाजपा का पुराना व् सबसे हसीन  सपना रहा है और इसीलिए सारे देश में उत्तर प्रदेश सरकार को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है उसे अपने ही शासित राज्य नहीं दिखाई दे रहे जहाँ स्थिति कमोबेश यही है और महिला वहां भी सुरक्षित नहीं है .ये बात महज एक बात नहीं है बल्कि निम्नलिखित समाचार भी इसकी पुष्टि करने हेतु पर्याप्त हैं -
उत्तर प्रदेश 
A minor gangraped in Lucknow.

तस्वीरें: लखनऊ में चलती कार में छात्रा से हुआ गैंगरेप, कोहराम

राजधानी लखनऊ में दिनदहाड़े हुए रेप की वारदात ने लोगों को हिलाकर रख दिया हैं। वहीं, घटना पर पुलिस के रूख से भी लोगों में नाराजगी है।
A teenaged girl kidnapped and gangraped in Lucknow.

UP: आठवीं की छात्रा से कार में गैंगरेप कर सड़क पर फेंका

छात्रा स्कूल से निकलने के बाद ऑटो का इंतजार कर रही थी कि तभी किसी ने उसके मुंह पर कपड़ा डाला और कार में डालकर लेकर चले गए।
मध्य प्रदेश 
two woman gangraped, one killed

पति के दोस्तों ने शराब पिलाकर लूटी महिला की आबरू

मध्यप्रदेश के मुरैना में एक दलित महिला से सामूहिक दुष्कर्म कर आरोपियों ने उसे जिंदा जला दिया जबकि दूसरी महिला की गैंगरेप कर हत्या कर दी गई
70 years old woman raped by her real son

रोती रही पत्‍नी, पति करता रहा बूढ़ी मां से बलात्कार

भोपाल में सनसनीखेज मामला सामने आया है जहां एक व्यक्ति ने अपनी बूढ़ी मां को बंधक बनाकर उससे बलात्कार किया।
राजस्थान

बाबा ने आश्रम में किशोरी से किया बलात्कार

monk raped with a teenager in ashram
राजस्‍थान के झुंझनू में एक आश्रम में एक किशोरी से बलात्कार का सनसनीखेज मामला सामने आया है।
बूढ़े ने मासूम को बनाया हवस का शिकार
तमिलनाडु 
69 साल के दादा ने मासूम पोती को बनाया हवस का शिकार
तमिलनाडु के कोयंबटूर में मानवीय रिश्तों को शर्मसार कर देने वाली दो घटनाएं सामने आई हैं। एक घटना ने तो बुजुर्गों और सगे रिश्तों से ही भरोसा उठा दिया है। एक मामले में 69 साल के दादा को अपनी 7 साल की मासूम पोती को हवस का शिकार बनाने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया है।

दूसरे मामले में एक 20 साल के युवक को अपने रिश्तेदार की 10 वर्षीय बेटे को यौन शोषण करने का मामला सामने है। 69 साल के बुजुर्ग पर पिछले एक साल से मासूम पोती से छेड़छाड़ कर रहा था। ‌आरोपी बुजुर्ग शहर के पोडानूर इलाके में रहता है। जबक‌ि दूसरी घटना पोलाची इलाके की है।

पुलिस ने शिकायत के आधार पर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया है और रिमांड में लेकर उनसे पूछताछ कर रही है। पुलिस ने बताया ‌कि आरोपी युवक रविवार को अपने रिश्तेदार के यहां खेलने के लिए आया था और वह घर से पीड़ित लड़के को ले गया, इसके बाद उसने उसका यौन शोषण किया।
अब ऐसे में केवल यही कहा जा सकता है कि पहले देश में सभी जगह महिलाओं के लिए रहने योग्य माहौल तैयार करना हमारी वर्तमान सरकार का दायित्व है यदि वह इसमें सफल हो जाये तभी किसी पर कीचड उछालती  सही लगेगी वर्ना तो उसके लिए वक़्त फिल्म में कहा गया अभिनेता राजकुमार का वही डायलॉग दोहराना पड़ सकता है -
''चुनार सेठ ! शीशे के घर में रहने वाले दूसरों के घरों पर पत्थर नहीं मारते .''

शालिनी कौशिक 
  [कौशल ]
 

टिप्पणियाँ

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शनिवार (22-08-2015) को "बौखलाने से कुछ नहीं होता है" (चर्चा अंक-2075) पर भी होगी।
--
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

aaj ka yuva verg

माचिस उद्योग है या धोखा उद्योग

aaj ke neta