सोमवार, 21 अप्रैल 2014

मोदी जी पहले अपना घर देख लो

Woman burnt alive over love marriage dispute
A 40-year old dalit woman was burnt alive by a her relatives at Helodar village in Malpur taluka of Aravalli district over the quarrel about a love marriage.

 
एक दलित महिला ज़िंदा जला दी गयी कोई बहुत बड़ी खबर नहीं है बड़ी है केवल इसलिए क्योंकि  यह खबर उस राज्य से जुडी है जिस राज्य से भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार श्री नरेंद्र मोदी जी आते हैं और जिस राज्य के बारे में ये कहा जाता है कि वहां रात के दो बजे भी लड़की घूम सकती है वहां एक दलित महिला के साथ ऐसा होता है और ये भी तब जब स्वयं उसी के समुदाय के नरेंद्र मोदी जी राज्य के मुख्यमंत्री हैं .नरेंद्र मोदी जब पश्चिमी यू पी .में आते हैं तो यहाँ पर महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चिंता जताते हैं ,दिल्ली जाते हैं तो नारी सुरक्षा में बड़े बड़े भाषण देते हैं ,यही नहीं स्वयं कहते हैं कि जिस दिन से उन्हें भाजपा ने प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया उस दिन से मैं महिला सुरक्षा को लेकर चिंतित हूँ और उस सम्बन्ध में उपाय सोच रहा हूँ .जिस राज्य की कमान वे तीसरी बार संभाल रहे हैं अगर वहां ऐसी घटना घटती है तब कैसे ये विश्वास किया जा सकता है कि वे इस संबंध में गंभीर हैं और उनके आने से वास्तव में अच्छे दिन आने वाले हैं .हाँ इतना अवश्य है कि उन्हें मीडिया पर नियंत्रण आता है क्योंकि मीडिया में कहीं भी इस खबर का चर्चा नहीं किया गया .ये खबर एक ब्लॉग लिखने वाले प्रबुद्ध ब्लॉगर द्वारा ही ज्ञात हुई तब इसे गूगल में सर्च करने पर मुश्किल से पता किया गया है .अपराधियों को संसद से बाहर करने का दावा करने वाले मोदी जी के ये कृत्य और अमित शाह जैसे तीन तीन खून करने वाले को अपने प्रचार अभियान का सर्वेसर्वा बनाना ही बताते हैं कि अब अपराधी संसद के कानून के दायरे से बाहर होंगे और मीडिया में प्रमुखता से .

शालिनी कौशिक 
  [कौशल ]

3 टिप्‍पणियां:

vishvnath ने कहा…

मोदी तो सिर्फ एक मोहरा है , उसका पूरा आधार ही हवा हवाई बातो, शोसल मीडिया , और इंटरनेट पर अपनी पूरी फ़ौज बिठा कर झूठे गुणगान पर टिका हुआ है। और मोदी जी का पूरा जोर सिर्फ झूठ बोलने और सच को दबाने में ही लगा रहता है।
लेकिन असल में वो उसी विचारधारा का पोषक है जिसके मठाधीशो की रोजी रोटी ही समाज और लोगो को तोड़ने और उन्हें सामंती संस्कारो में उलझाये रखने से चलती है। वो जिनका सरगना कहता है की रेप इंडिया में होते है भारत में नहीं।

"" १४ लड़को ने उस औरत को घर से निकाल कर घसीट घसीट कर चौराहे पर लाकर "कैरोसिन डाल के ज़िंदा जला दिया।""

शायद इतनी बर्बरता तो पाषाण युग के मानव समाज में भी नहीं होती होगी।

ZEAL ने कहा…

Parveen Bano, Pagla gayi ho tum.

AR TOHEED ने कहा…

bade besharm hai ye log inhai keval satta ki kursi nazar aarahi hai us tak pahunchne ke liye inke sab khun maaf sare jhunt sach hai . yah aapni burai nahi dekhte hai inhai dusro ki sachchai bhi juth lagti hai.samprdaikta ka jahar ghol kar eak varg ki upeksh karke yah kya sabit karna chahte hai.

''बेटी को इंसाफ -मरने से पहले या मरने के बाद ?

   '' वकील साहब '' कुछ करो ,हम तो लुट  गए ,पैसे-पैसे को मोहताज़ हो गए ,हमारी बेटी को मारकर वो तो बरी हो गए और हम .....तारी...